Bihar: ASI की पिटाई से महिला की मौत का आरोप, थाना के आगे बवाल, पुलिस ने भांजी लाठियां

GOPALGANJ : बिहार के गोपालगंज जिले के जादोपुर थाने के बरइपट्टी गांव में महिला की संदिग्ध हालत में मौत होने के बाद परिजनों ने मंगलवार की शाम जमकर हंगामा किया। शव को जादोपुर थाने के बाहर रखकर पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया। मृतक महिला का नाम माया देवी है, जो रामा देवी की पत्नी थी। परिजनों का आरोप है कि जादोपुर थाने में तैनात एएसआइ संतोष कुमार की पिटाई से महिला की हालत बिगड़ी, इसके बाद इलाज के दौरान निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां मौत हो गयी।

बता दें कि मौत की खबर मिलने के बाद गांव के लोग आक्रोशित हो गए। शव को लेकर थाना के गेट पर पहुंचे और बवाल करने लगे। पुलिस-प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। मौत के बाद प्रदर्शन करने थाने पर पहुंचे परिजनों को पुलिस ने पहले मामले को दबाने की कोशिश की, इसके बाद लाठियां भांजनी शुरू कर दीं।

पुलिस के लाठियां भांजने के बाद थाना के पास घंटों अफरा-तफरी का माहौल बना रहा। बाद में पुलिस कप्तान की पहल पर लोग शांत हुए। हालांकि, एसपी आनंद कुमार ने इस पूरे मामले से इंकार किया है और बीमारी से महिला की मौत होने की बात बताते हुए शव का पोस्टमार्टम कराने की बात कही।

बच्चों को लेकर हुआ था विवाद

बताया जा रहा है कि जादोपुर थाने के बरइपट्टी गांव में बच्चों के बीच सोमवार को आपसी में विवाद हुआ था। बच्चों के बीच हुआ विवाद बड़ों तक पहुंच गया। इसके बाद एक पक्ष के लोगों ने मृत महिला माया देवी और उसके बेटे की पिटाई कर दी। वहीं, पुलिस जब जांच के लिए पहुंची, तो माया देवी के बेटे को गिरफ्तार कर थाना लेकर जाने लगी। मृत महिला की पुत्री अंशु कुमारी का आरोप है कि पुलिस ने माया देवी की पिटाई की, उसके बाद उनकी तबीयत बिगड़ गयी और अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान मौत हो गयी।

पोस्टमार्टम करवा रही पुलिस

महिला की मौत के बाद परिजनों के आरोप को देखते हुए पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने का निर्णय लिया है। सदर एसडीपीओ संजीव कुमार ने इस पूरे मामले की जांच की है। एसडीपीओ का कहना है कि किसी के समझाने-सिखाने पर परिजन थाने पर शव को लेकर पहुंच गए थे, ताकि मुआवजे के प्रावधान में शामिल हो सकें। इस मामले को लेकर पुलिस जांच कर रही है।