नई नवेली दुल्हन के सामने दूल्हे ने रखी वर्जिनिटी टेस्ट की मांग, युवती ने किया ससुराल जाने से इंकार

MOTIHARI : बिहार के पूर्वी चंपारण जिले के मोतिहारी स्थित तुरकौलिया थाना क्षेत्र से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। दरअसल शादी के बाद विदाई के समय किसी बात पर हुए विवाद को लेकर दूल्हे ने ऐसी डिमांड रख दी जिसे सुनकर सभी हैरान रह गए। लड़के ने नई नवेली दुल्हन के सामने वर्जिनिटी टेस्ट की मांग रख दी। जिसके बाद वहां हंगामा खड़ा हो गया और लड़की पक्ष के लोगों ने बारातियों को बंधक बना लिया। बाद में पुलिस की पहल पर दो दिनों बाद बंधक बने लोग छूट तो गए, लेकिन उन्हें बिना दुल्हन के ही अपने घर लौटना पड़ा। पूरा मामला तुरकौलिया थाना क्षेत्र का है।

दूल्हे ने की अजीबोगरीब मांग

मिली जानकारी के अनुसार तुरकौलिया थाना के चारगाहा में 16 नवंबर को गुदरी बैठा की बेटी की शादी थी। शादी की सभी तैयारी पूरी हो गई। बारात बेतिया के मझौलिया थाना क्षेत्र स्थित अहवर शेख गांव से आई। जयमाला हुआ, बारातियों ने नाश्ता किया और खाना खाया। इधर शादी की रश्म होने लगी और शादी भी हो गई, लेकिन 17 नवंबर की सुबह लड़की की विदाई के समय लड़का और लड़की पक्ष के बीच किसी बात पर विवाद हो गया। धक्का-मुक्की होने लगी तभी लड़की पक्ष ने कागज पर बॉन्ड बनाकर मांग रखी कि लड़की को ससुराल में कोई कष्ट नहीं होगा। इस बात पर दूल्हा सूरज बैठा नाराज हो गया और लड़की की वर्जिनिटी टेस्ट की मांग रख दी। जिसके बाद विवाद काफी बढ़ गया और लड़की पक्ष के लोगों ने बरातियों को बंधक बना लिया।

दुल्हन ने किया ससुराल जाने से इंकार

इस विवाद को लेकर दो दिनों तक स्थानीय स्तर पर पंचायती चली, लेकिन पंचायती से भी जब निदान नहीं निकला तो लड़के पक्ष ने पुलिस से गुहार लगाई। गांव वालों ने लड़का और लड़की पक्ष के बीच मामला सुलझाने की कोशिश की लेकिन गांव वालों के दो दिनों का प्रयास विफल रहा। लड़के पक्ष वालों ने थाना से गुहार लगाई, तुरकौलिया थानाध्यक्ष मिथिलेश कुमार ने स्थानीय पंचायत प्रतिनिधियों के सहयोग से लड़के और लड़की पक्ष के बीच समझौता कराया। हालांकि नववधु ने दुल्हे के साथ जाने से मना कर दिया। जिसके बाद दूल्हे को बिना अपनी दुल्हन के ही अपने घर लौट पड़ा। वहीं कई लोग दूल्हे की इस मांग से काफी हैरान भी हैं। 21वीं सदी में भी लड़कियों ऐसी विचार धारा का सामना करना पर रहा है।