मुख्यमंत्री नीतीश के सामने युवक करने लगा आत्मदाह, पुलिस ने पकड़ा, समाधान यात्रा के दौरान हुई घटना

SITAMARHI : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आजकल समाधान यात्रा पर हैं। शुक्रवार को वो सीतामढ़ी जिले के भ्रमण पर रहे। इस दौरान एक युवक ने उनके सामने ही जान देने की कोशिश की है। यात्रा के दौरान जैसे ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समाहरणालय के परिचर्चा भवन के पास पहुंचे, युवक ने आत्मदाह करने लगा। हालांकि वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने युवक को पकड़ लिया और हिरासत में ले लिया है। युवक की पहचान आफताब आलम के रूप में हुई है।

2021 में हुई थी भाई की मौत, पुलिस ने हत्या को दुघर्टना बताया

जानकारी के अनुसार साल 2021 में आफताब के भाई जहांगीर आलम की संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी। परिजनों ने जहांगीर की हत्या अपराधियों द्वारा करने की आशंका जताई थी, लेकिन पुलिस ने इसे दुर्घटना बता पूरे मामले को रफा-दफा कर दिया। जहांगीर आलम का भाई पुलिस की जांच से असंतुष्ट था। बार बार गुहार लगाने के बावजूद पुलिस उसकी बात नहीं सुन रही थी। वो दर दर भटक कर अब नीतीश कुमार से आखिरी उम्मीद लगा बैठा था। वो पुलिस के अंदर जड़ जमा हुए भ्रष्टाचार से मुख्यमंत्री को अवगत कराना चाहता था।

मुख्यमंत्री को बताना चाहता था अपनी पीड़ा

उसे जैसे ही पता चला कि मुख्यमंत्री आ रहे हैं, उसने मुख्यमंत्री को अपनी पीड़ा बतानी चाही, लेकिन शुक्रवार को जब वो मुख्यमंत्री तक अपनी बात पहुंचाने में असफल रहा तो आत्मघाती कदम उठा लिया। उसे जानकारी थी कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज सीतामढ़ी आ रहे हैं। उसे कहा गया था कि मुख्यमंत्री लोगों से बात करेंगे। जब अपनी बात को सीएम नीतीश कुमार तक पहुंचाने में वो असफल रहा तो उसने मुख्यमंत्री के सामने जान देने की कोशिश की, लेकिन समय रहते पुलिसकर्मियों ने उसे हिरासत में ले लिया। इस दौरान थोड़ी देर के लिए मौके पर अफरा-तफरी का माहौल हो गया।

जेडीयू नेता पर हत्या का आरोप

मामला 2021 का है। जेडीयू नेता शादाब अहमद खान पर आफताब के भाई जाहिद हुसैन की हत्या का आरोप है। 2 अक्टूबर 2021 को रीगा थाना क्षेत्र के भव्यपुर निवासी जाहिद हुसैन का शव नगर थाना क्षेत्र के कांटा चौक पर एनएच-77 के किनारे मिला था। इसको लेकर नगर थाने में जेडीयू नेता शादाब अहमद पर मामला दर्ज करवाया गया था। इसी को लेकर जाहिद के भाई आफताब आलम ने शुक्रवार को समाहरणालय के परिचर्चा भवन के समीप आत्मदाह की कोशिश की।