आतंकियों ने जम्मू में बिहार के गोलगप्पे बेचने वाले को मारी गोली, परिवार में मचा कोहराम

BANKA [JKNEWS175] : बिहार के बांका जिले के बाराहाट थाना क्षेत्र की महुआ पंचायत के पड़घड़ी गांव निवासी युवक अरविंद कुमार साह 30 वर्षीय की शनिवार को जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी है. इसकी सूचना युवक के साथ रह रहे कुछ स्थानीय ग्रामीणों ने मृतक के परिजनों को फोन पर दी है. युवक की हत्या की खबर पर परिजन सहित पूरा गांव दहल गया. मृतक के परिजनों ने बताया कि पड़घड़ी गांव निवासी देवेंद्र साह का चौथा पुत्र अरविंद कुमार साह विगत आठ वर्षो से जम्मू में रह रहा था. वह वहां चाट व फुचका की दुकान चलाता था. उसका भाई मंटू साह भी साथ ही रहता था. लॉकडाउन में अरविंद घर आ गया था. तीन माह पूर्व वह पुन: जम्मू चला गया. उसकी अब तक शादी नहीं हुई थी.

वह हर माह अपने माता पिता को रुपए भेजता था. इधर शनिवार की शाम करीब छह बजे गांव के ही युवक चंदन साह का उसके पिता को फोन आया कि अरविंद को गोली लगी है तथा उसे अस्पताल ले जाया गया है. कुछ देर बाद उसकी मौत की खबर दी गई. अरविंद की मौत की खबर पर कोहराम मच गया. पिता देवेंद्र साह, माता सुनैना देवी, भाई डबलू साह, मुकेश साह सहित अन्य परिजनों की चीत्कार से पूरा गांव गूंज उठा. देखते ही देखते दर्जनों लोगों की भीड़ मृतक के घर उमड़ पड़ी. लोगों को जब अरविंद की मौत की सूचना मिली तो पूरा गांव गमगीन हो गया. ग्रामीणों ने बताया कि देवेंद्र साह मजदूरी कर अपने परिवार को पालता था. अरविंद इस परिवार का इकलौता सदस्य था जो जम्मू में रहकर कमाता था.

शव को लाया जाएगा बांका

अरविंद कुमार साह की हत्या के बाद बांका विधायक सह पूर्व राजस्व मंत्री रामनारायण मंडल ने बांका डीएम एवं भाजपा नेता सुशील मोदी से बात की. सुशील मोदी के द्वारा बताया गया कि जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से उनकी इस संबंध में बात हुई है तथा जम्मू-कश्मीर प्रशासन 11 लाख रुपये मृतक के परिजनों को मुआवजा के तौर पर देगा. साथ ही बिहार सरकार भी मुआवजा देगी. इस संबंध में विधायक रामनारायण मंडल ने बताया कि मृतक अरविंद के शव को बांका लाया जाएगा तथा उसका सम्मान पूर्वक अंतिम संस्कार किया जाएगा. उन्होंने अरविंद की हत्या पर दुख प्रकट करते हुए कहा कि इस दुख की घड़ी में उसके परिजनों को भगवान सहन शक्ति दे. उन्होंने कहा कि अरविंद की हत्या को लेकर बिहार सरकार जम्मू कश्मीर सरकार के संपर्क में है.