समस्तीपुर में बूढी गंडक नदी से मिली शव की हुई पहचान:3 दिन पहले तीन साल की बच्ची के साथ निकली थी; बच्ची अब भी लापता

SAMASTIPUR : बिहार के समस्तीपुर जिले के मथुरापुर ओपी क्षेत्र के सारी रामनगर स्थित सहनी घाट के पास गुरुवार सुबह बूढी गंडक नदी में उपलाता हुआ युवती का शव मिला था जिसकी पहचान कर ली गई है। युवती की पहचान वारिसनगर थाने के रहुआ गांव के रामविलास मंडल की पुत्री रंजू देवी के रूप में की गई। जबकि मृतक की तीन साल की पुत्री रिया लापता है। बताया गया है कि 12 दिसंबर को रंजू बच्ची को बिस्कुट खरीदने के लिए घर से निकली थी। तब से वह लापता थी।

मृतक के पिता रामविलास मंडल ने बताया कि करीब सात साल पूर्व उनकी पुत्री रंजू की शादी खानपुर भानूपुर निवासी लक्ष्मण मंडल के साथ हुई थी। उसे एक तीन वर्ष की पुत्री रिया भी है। पति से अनबन के बाद गत एक वर्ष से रंजू अपनी पुत्री के साथ अपने पिता के साथ रह रही थी। 12 दिसंबर को वह घर से बेटी के लिए बिस्कुट खरीदने निकली तो लौट कर नहीं आयी। उधर, रंजू का शव मिलने के बाद उसके साथ निकली बच्ची को लेकर तरह-तरह की आशंका से घीरे हुए हैं। चुकी बच्ची लापता है।

शव मिलने के बाद इलाके में फैल गई थी सनसनी

बताया गया है गुरुवार सुबह सहनी घाट की ओर शौच करने गए लोगों ने घाट के पास ही नदी के किनारे महिला का शव देखा। हल्ला होने पर आसपास के गांव की बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ जुट गई। हालांकि किसी भी लोगों ने महिला की पहचान नहीं की। गुरुवार देर शाम महिला शव मिलने की सूचना पर जब रंजू के पिता शव देखने पहुंचे तो उसकी पहचान हुई।