समस्तीपुर: रिमझिम मैरेज हॉल संचालक हत्याकांड का 24 घंटा के अंदर पुलिस ने किया खुलासा, दोस्त ने ही की हत्या

SAMASTIPUR : बिहार के समस्तीपुर शहर के मोहनपुर निवासी टेंट कारोबारी (रिमझिम मैरेज हॉल) मनोहर सिन्हा हत्याकांड का पुलिस ने 24 घंटे के अंदर खुलासा कर लिया है। टेंट कारोबारी की हत्या उनके साथ उठने बेठने वाले मित्र ने ही की थी। कारोबारी की हत्या मोहनपुर स्थित उक्त कबाड़ी दुकान में की गई थी जिस दुकान के सामने मृतक का शव बरामद हुआ था इस मामले में पुलिस ने कबाड़ी दुकानदार सुजीत कुमार के अलावा मुसरीघरारी थाना क्षेत्र के हरपुर ऐलॉथ निवासी अमित कुमार उर्फ छोटे सरकार को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार बदमाशों के पास से हत्या में प्रयुक्त किया गया देसी पिस्टल और गोली भी मिला है।

अमित कुमार को अवैध देसी पिस्तौल के साथ किया गिरफ्तार

उपरोक्त जानकारी देते हुए एसपी हृदय कांत ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि इस घटना के बाद पुलिस ने मानवीय व तकनीकी आधार पर अनुसंधान शुरू किया था पुलिस ने इस मामले में अमित कुमार उर्फ छोटे सरकार को अवैध देसी पिस्तौल के साथ गिरफ्तार किया। जिसके बाद उसकी पूछताछ शुरू की गई। पूछताछ के दौरान अमित ने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए पूरी घटना के बारे में बताया।

एसपी ने बताया कि अमित ने स्वीकार किया है कि मनोहर सिन्हा की हत्या सुजीत कुमार के कबाड़ी दुकान में की गई थी। रात में ही लोगों ने घटनास्थल से खून आदि को साफ कर दिया था। ताकि कोई साक्ष ना मिले। बाद में पुलिस ने इस मामले में कबाड़ी दुकानदार सुजीत कुमार को भी गिरफ्तार किया। सुजीत कुमार ने भी अमित कुमार एवं उन लोगों के घटना में शामिल होने की बात स्वीकार की।

छोटे सरकार पर पूर्व से भी अपराधिक मामला दर्ज

बताया गया है कि वह कबाड़ी दुकान में टेंट कारोबारी का आना जाना लगा रहता था। उनका घोड़ा भी उसी जगह पर बांधा जाता था। 24 नवंबर की रात आपस में सभी बैठे थे इसी दौरान किसी बात पर विवाद हो गया। जिसके बाद अमित उर्फ छोटे सरकार ने उन पर ताबड़तोड़ दो गोली चला दी। जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद लोगों ने पहले घटनास्थल पर खून आदि को साफ किया। जब रात गहरा गयी तो उनके शव को बाहर निकाल कर रख दिया। एसपी ने बताया कि अमित कुमार उर्फ छोटे सरकार पर पूर्व से भी अपराधिक मामला दर्ज है। एसपी ने बताया कि अमित पर मुसरीघरारी थाना क्षेत्र में आर्म्स एक्ट के अलावा हत्या की कोशिश की भी प्राथमिकी पूर्व से दर्ज है।