बिहार: नवविवाहिता की संदिग्ध मौत, साक्ष्य छिपाने के लिए शव को जलाया

BETTIAH, WEST CHAMPARAN : बिहार के पश्चिमी चंपारण के सिरिसिया थाना क्षेत्र के एकरहिया गांव में एक नवविवाहिता की संदिग्ध मौत का मामला सामने आया है। जहां साक्ष्य छुपाने की नियत में शव को जलाने का मामला भी सामने आया है। नवविवाहिता के ससुराल वालों ने गला दबाकर हत्या करने और गांव के सरेह में ले जाकर शव को जला देने का आरोप लगाया है। घटना जिले के सिरिसिया थाना क्षेत्र गांव का है। घटना की जानकारी मिलते ही सिरिसिया ओपी थाना पुलिस मौके पर पहुंचकर मामले की जांच में जुट गई है।

मृतक के पिता ने आवेदन देकर लगाई न्याय का गुहार

मामले में मृतक के पिता मुआली राम ने सिरिसिया ओपी थाना में आवेदन देकर न्याय का गुहार लगाई है। उन्होंने पुलिस को दिये आवेदन में बताया है कि वो अपनी बड़ी बेटी आशा कुमारी की शादी 9 दिसंबर 2020 को सिरिसिया ओपी के एकरहिया गांव निवासी शिवनाथ राम के पुत्र धर्मेंद्र कुमार से किए थे। उस समय अपनी शक्ति के अनुसार दहेज भी दिया। शादी के बाद से ही मेरी बेटी को ससुराल वालों द्वारा लगातार दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा।

ससुराल वाले घर छोड़कर हुए फरार

रविवार के दिन मेरे बेटी को दामाद और उनके माता-पिता और घरवालों द्वारा मिलकर दहेज के लिए गला दबाकर हत्या कर साक्ष्य छुपाने की नियत से शव को जला भी दिया गया। वहीं पिता के आवेदन के बाद पुलिस एक्शन में आ गई है। जहां नवविवाहिता के शव को जलाया गया था। वहां घटनास्थल पर पुलिस पहुंचकर जांच कर रही है और लोगों से पूछताछ कर रही है। वहीं घटना के बाद नवविवाहिता के पति और सास- ससुर घर छोड़कर फरार हैं।