समस्तीपुर पुलिस को मिली सफलता: सेंट्रल बैंक से 62.09 लाख लूट की रकम में से 54.33 लाख पुलिस ने किया बरामद, पांचों बदमाश भी गिरफ्तार

ROSERA, SAMASTIPUR : बिहार के समस्तीपुर जिले के रोसड़ा थाना क्षेत्र अंतर्गत ऐरौत गांव स्थित सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की शाखा में साेमवार काे 62.09 लाख की लूट हुई थी। लूट के बाद भागने के दाैरान तीन लुटेराें ने गन्ने के एक खेत में रुपए छिपाए थे और दूसरे में खुद छिप गए थे। पैराें के निशान से रुपए बरामद किए गए। डकैत पुलिस को उलझाना चाहते थे। गन्ने के दोनों खेत के बीच में गेहूं का खेत था। एक खेत से दूसरे खेत में जाने के दौरान गेहूं के खेत में लुटेरों के पैर के निशान बन गए थे।

इसी पैर के निशान के आधार पर पुलिस लुटेरों के करीब पहुंच गई। कैश-पिस्टल के साथ तीनों को गिरफ्तार कर लिया। मालूम हाे कि रोसड़ा के ऐरौत गांव स्थित सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की शाखा से बदमाशों ने 62 लाख 9 हजार 165 रुपए की लूट की थी। 7 घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद पुलिस ने लूट की राशि में से 54 लाख 33 हजार 665 रुपए बरामद कर लिया।

इसके साथ ही पुलिस ने मास्टर माइंड समेत पांच बदमाशों को भी गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से तीन देसी कट्‌टा के अलावा चार गोली, चार मोबाइल व घटना में प्रयुक्त एक बाइक भी बरामद की गई। एसपी ने बताया कि लूट की घटना के बाद मुख्यालय डीएसपी अमित कुमार के साथ दलसिंहसराय के डीएसपी दिनेश पांडेय के नेतृत्व में पुलिस की टीम ने छापेमारी शुरू की। इसी दौरान मुरादपुर के पास एक बदमाश पकड़ा गया। उसके पास से करीब 29 लाख रुपए बरामद हुए।

साेमवार काे बैंक खुलते ही घुसे थे पांचाें बदमाश

गिरफ्तार बदमाश की पहचान बेगूसराय जिले के बछवाड़ा के मनोज महतो का पुत्र राजा कुमार, विद्यापतिनगर थाने के गोपालपुर के कुशेश्वर महतो का पुत्र महेश कुमार, महादेव महतो का पुत्र पिंटू कुमार के अलावा मास्टरमाइंड गोपालपुर का मनोज सिंह का पुत्र नितेश कुमार सिंह उर्फ लालू सिंह तथा बेगूसराय के मंसूरचक के अहियापुर के राजेश चौधरी का पुत्र अंकित कुमार के रूप में की गई है। यह जानकारी मंगलवार रोसड़ा थाने पर आयोजित संवाददाता सम्मेलन में एसपी हृदयकांत ने दी। कहा कि नितेश कुमार सिंह उर्फ लालू सिंह काे पुलिस ने विद्यापतिनगर से गिरफ्तार किया है। एसपी ने बताया कि पूरे लूटकांड की योजना लालू ने ही बनाई थी।

शेष राशि के लिए खेतों में की जा रही है खोज

एसपी हृदयकांत ने बताया कि लूट की सभी राशि अभी बरामद नहीं हो पाई है। शेष बची राशि 8.75 लाख रुपए की बरामदगी के लिए पुलिस टीम का प्रयास जारी है। उन्होंने यह भी बताया कि संभव है कि बदमाशों ने लूट की राशि खेत आदि में छिपा दिया हो अथवा गिर गया हो, इसके लिए सर्च अभियान शुरू करने का आदेश दिया गया है।